Flirt Shayari To Impress A Girl In Hindi

रोमांस के क्षेत्र में, शब्दों में दिलों को लुभाने और स्थायी छाप बनाने की अविश्वसनीय शक्ति होती है। जब किसी लड़की को रिझाने की बात आती है, तो स्थायी प्रभाव बनाने के लिए पारंपरिक तरीके हमेशा पर्याप्त नहीं हो सकते हैं। यहीं पर फ़्लर्ट शायरी की कला, फ़्लर्ट और शायरी का एक रमणीय मिश्रण कदम रखता है। Flirt Shayari आपकी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए एक आकर्षक और अभिव्यंजक तरीके के रूप में कार्य करती है, जिससे आप अपने स्नेह की वस्तु से गहरे भावनात्मक स्तर पर जुड़ सकते हैं।

इस लेख में, हम Flirt Shayari की करामाती दुनिया में तल्लीन हैं, यह खोजते हुए कि कैसे यह काव्य रूप आपको अपनी इच्छित लड़की पर एक यादगार छाप बनाने में मदद कर सकता है। चाहे आप एक अनुभवी कवि हों या कोई अपने रोमांटिक पक्ष को गले लगाने की तलाश कर रहे हों, हम आपको अंतर्दृष्टि, टिप्स और करामाती इश्कबाज शायरियों का एक संग्रह प्रदान करेंगे जो उसके दिल पर एक अमिट छाप छोड़ने के लिए बाध्य हैं।

फ़्लर्ट शायरी की कलात्मकता के माध्यम से, आप उन शब्दों को शिल्पित कर सकते हैं जो पृष्ठ से हटकर नृत्य करते हैं, भावनाओं को उद्घाटित करते हैं, हँसी को प्रज्वलित करते हैं, और साज़िश की भावना को जगाते हैं। हम चुलबुले मज़ाक और वास्तविक भावनाओं के बीच नाजुक संतुलन पर चर्चा करते हुए इश्कबाज़ी की बारीकियों का पता लगाएंगे। डिस्कवर करें कि कैसे कविता की एक सावधानी से चुनी गई पंक्ति अनायास उसका ध्यान आकर्षित कर सकती है, जिससे उसके दिल की धड़कन रुक जाती है और वह और अधिक के लिए उत्सुक हो जाती है।

धोखा मिला जब भी प्यार में,
ज़िंदगी में उदासी छा गयी।
सोचा था छोड़ देंगे इस राह को,
कमबख्त फिर एक नया नंबर से मिस कॉल आ गयी।
हर नज़र को एक नज़र की तलाश है,
हर चेहरे में कुछ तो एह्साह है।
आपसे दोस्ती हम यूं ही नहीं कर बैठे,
क्या करें हमारी पसंद ही कुछ खास है।
चिरागो में अगर नूर न होता,
तो तनहा दिल इतना मजबूर न होता।
कसम से हम आपसे मिलने जारूर आते,
अगर आपका आशियाना इतनी दूर न होता।
आसमान में काली घटा छाई है,
आज फिर से घरवाली से मार खाई है।
दिल तो करता है…सुधर जाऊं मगर,
कामवाली आज फिर भीग के आई है।
मेरा नाम बोल के सोया करो,
खिड़की खोल ताकिए मोड़ के सोया करो।
हम भी आयेंगे तुम्हारे खयालों में,
इसलिए थोड़ी जगह छोड़े सोया करो।
होंठ कह नहीं सकते जो फ़साना दिल का,शायद नज़र से वो बात हो जाये.इस उम्मीद में करते हैं इंतज़ार रात का,की शायद सपने में मुलाक़ात हो जाये.
दिल की बात दिल में मत रखना ये दोस्त,जो भी पसंद हो उससे I love you केहना,कगार वो ग़ुस्से में में आ जाये तोह दरना मट,राखि निकलना और कहना प्यारी बहना मिलती रेहना।
मुस्कुराना तो हर लड़की की अदा है,मुस्कुराना तो हर लड़की की अदा है,उसे जो मोहब्बत समझे,वह सबसे बड़ा गधा है.
गोरी पान न खाया करो, होंठों पे लाली आती है,गोरी पान न खाया करो, होंठों पे लाली आती है,बय गॉड, तेरा वज़न देख के मेरी जान निकल जाती है.
आज मौसम में अजीब सी बात है,बेकाबू से हमारे खयालात हैं,जी चाहता है चुरा लूँ आप को आपसे,पर मम्मी कहती है चोरी करना पाप है.
जब तुम आईने के पास जाते हो?तो आइना कहता है?ब्यूटीफुल.. ब्यूटीफुल..
तुम दूर सही मजबूर सही,पर याद तुम्हारी आती है.जब साँस वहां पर लेटी हो,तो बदबू यहां तक आती है.
आंसू तेरे निकले और आँखें मेरी हो,दिल तेरा धड़के और धड़कन मेरी हो,खुदा करे हमारी दोस्ती इतनी गहरी हो,की नौकरी तुम करो और सैलरी मेरी हो….
छुप गया बदलि में जाके,चांद भी शरमा गया.छुप गया बदलि में जाके,चांद भी शरमा गया.और आपको देखा तो,भूतों को पसीना आ गया.
जब जब घिरे बादल तेरी याद आयी,जब झूम के बरसा सावन तेरी याद आयी,जब-जब में भीगा तेरी याद आयी,अब रहा नहीं जाता, छतरी लौटा दे भाई
ना ही ज़रुरत है सितारों की,ना ही ज़रुरत है फालतू यारों की,एक दोस्त चाहिए आपके जैसा,जो वाट लगा दे हज़ारों की.
तुमसे मिल कर हो गया ज़िन्दगी से प्यार,अब हमें छोड़ कर मत जाना यार,बिन तेरे हम जी न पाएंगे,तुम न होगे तो हम उल्लू किसे बनाएंगे
आज कल तुम मुस्कुराती बहुत हो,मेरे दिल को भाति बहुत हो,दिल कहता है ले जाऊं तुम्हें डिनर पे,पर सुना है तुम ख़ाति बहुत हो!
अपनी मोहब्बत कि खुशबु से नुर कर दे,
जुदा न हो सकु इतना मगरुर कर दे,
मेरे दिल मे बस जाए वफ़ा तेरी ,किसी
और को ना देखु मुझे इतना मजबुर कर दे.
दीवानगी मे कुछ ऐसा कर जाएंगे।
महोब्बत की सारी हदे पार कर जाएंगे,
वादा है तुमसे दिल बनकर तुम धड़कोगे
और सांस बनकर हम आएँगे।।
तुझे पलकों पर बिठाने को जी करता है,
तेरी बाहों से लिपट जाने को दिल करता है,
ख़ूबसूरती की इन्तहा हैं तू, तुझे अपनी
ज़िन्दगी बनाने को जी करता हैं.
ओये मेरी जान गुस्सा करेगी तोह भी तेरे
पास हे आऊंगा क्युकी तेरे बिना एक पल भी
रहने की अब आदत नहीं है मुझे।
सच्ची मोहब्बत ज़िन्दगी में सिर्फ एक बार
होती है और जब होती है तो कोई भगवन
या खुदा उसे नाकामयाब नहीं होने देते।
मुझे प्यार करना नहीं आता पर
जितना भी किया है सिर्फ और सिर्फ
तुमसे ही किया है जान।
पूरा हक़ है तेरा मुझ पे तू सब जताया कर
में ना पुछु मुझे फिर भी सब बताया कर।
पता नहीं कितना प्यार हो गया है तुमसे
नाराज होने पर भी तुम्हारी बहुत याद आती है।
इज़हार से नहीं इंतज़ार से पता
चलता है मोहब्बत कितनी गहरी है।
जान हैं मुझको जिंदगी से प्यार।
जान के लिए कर दू कुरबान यारी।
अब आपसे हि क्या छुपाना।
आप ही तो है जान हमारी।
अगर मोहब्बत हो तो गरीब से हो
तोहफे न सही धोके तो नहीं मिलेंगे।
तेरी हर अदा मोहब्बत सी लगती है पल भर
की जुदाई सदियों सी लगती है पता नहीं क्यों
जिंदगी में हर पल तेरी जरुरत सी लगती है.
बस इतना करीब रहो की
बात न भी हो तो दूरी ना लगे।
तुम मेरी बाहों का हार बनो,
मेरे आँखो की चमक बनो,
तुम इस दिल की धड़कन बनो,
मेरे साँसों की महक बनो,
बस हर पल यूही इस दिल की चाहत बनो.
तुम मिलो या न मिलो पर तुम्हे
दुनिया की हर ख़ुशी मिले।

Flirt Shayari

दिल के कोने से एक आवाज़ आती हैं ।
हमें हर पल उनकी याद आती हैं।
दिल पुछता हैं बार -बार हमसे के
जितना हम याद करते हैं उन्हें
क्या उन्हें भी हमारी याद आती हैं।
वक़्त कितना भी बदल जाए
मेरी मोहब्बत कभी नहीं बदलेगी।
मुहब्बत को जब लोग खुदा मानते हैं।
प्यार करने वाले को क्यों बुरा मानते हैं।
जब जमाना ही पत्थर दिल हैं।
फिर पत्थर से लोग क्यों दुआ मांगते है।
अंदाज-ऐ-प्यार तुम्हारी एक अदा है
दूर हो हमसे तुम्हारी खता है,
दिल में बसी है तस्वीर तुम्हारी,
जिसके नीचे I Love You लिखा है.
तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।
चेहरे पर हंसी छा जाती है
आंखों में सुरूर आ जाता है
जब तुम मुझे अपना कहते हो
अपने आप पर गुरुर आ जाता है.
देख के हमें वो सिर झुकाते हैं।
बुला के महफिल में नजर चुराते हैं।
नफरत हैं हमसे तो भी कोई बात नहीं।
पर गैरो से मिल के दिल क्यों जलाते हो।
नैनो से नैन मिलाकर, मोहब्बत का इजहार करूँ,
बन कर ओस की बुँदे, जिन्दगी तेरी गुलजार करूँ,
संवर जाएगी तेरी मेरी जिन्दगी, इश्क के सफर में
थाम ले तू हाथ मेरा, मैं तेरे हर वादे पे ऐतबार करूँ.
वो छा गए है कोहरे की तरह मेरे चारो तरफ
न कोई दूसरा दिखता है न देखने की चाहत है.
नज़रे करम मुझ पर इतना न कर,
की तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
मुझे इतना न पिला इश्क़-ए-जाम की,
मैं इश्क़ के जहर का आदि हो जाऊं।
हर कर्ज मोहब्बत का अदा करेगा कौन,
जब हम नहीं होंगे तो वफ़ा करेगा कौन,
या रब मेरे मेहबूब को रखना तू सलामत,
वर्ना मेरे जीने की दुआ करेगा कौन.
शान से हम तेरे दिल में रहेंगे,
तेरी मोहब्बत पे जान निसार करेंगे,
देख के जलेगी हमे दुनियाँ सारी,
इस कदर बे-पनाह प्यार तुझे करेंगे.
अगर मेरे हालातों से कुछ
मन में बुरा ख़याल आ जाता है,
तो परवाह ना करना मुझे अपनी
हद में रहना आता है।
गुस्सा करने के बाद भी Care करना
यही तो होता है सच्चा प्यार।
कान खोल कर सुन लो जान
लड़ेंगे झगड़ेंगे लेकिन सोयेंगे
साथ में ही जान।
बेहद ख्याल रखा करो तुम अपना मेरी
आम सी ज़िन्दगी में बहुत ख़ास हो तुम।
कोई चाहिए जो कहे तुम कामयाब
हो जाओ रिश्ता में खुद ले कर आउंगी।
तुम बस मुस्कुराया करो मेरी जान
क्युकी तुम्हारी स्माइल में ही तोह मेरी
जान बस्ती है।
किसी से दिल लग जाने को मोहब्बत
नहीं कहते जिसके बिना दिल न लगे
उसे मोहब्बत कहते हैं।
इज़हार से नहीं इंतेज़्ज़र से पता
चलता है मोहब्बत कितनी गहरी है।
बेहद ख्याल रखा करो तुम अपना मेरी
आम सी ज़िन्दगी में बहुत ख़ास हो तुम।
आप क्यों नहीं समझते नहीं रहा जाता
आपके बिन अपना ख्याल रखा करो जान।
इश्क की चोट का कुछ, दिल पे असर हो तो सही।
दर्द कम हो कि ज्यादा हो, मगर हो, तो सही।
बिना तेरे मेरी हर ख़ुशी अधूरी हैं फिर
सोच मेरे लिए तू कितनी ज़रूरी है।
थोड़ी दूरियाँ भी ज़रूरी है,ज़िन्दगी में,
किसी के इतने करीब भी न जाओ,
की वो दूर चला जाये.
इज़हार से नहीं इंतेज़्ज़र से पता
चलता है मोहब्बत कितनी गहरी है।
उसके ख्यालों से रंग गयी है रूह तक मेरी,
अब किसी और का ख्याल आये तो आये कैसे।
तेरे बिना न मान लगता है
न दिल लगता है i miss you.
रोज एक नयी तकलीफ रोज एक नया गम
ना जाने कब एलान होगा की मर गए हम।

dp download

खुश नहीं हूँ मजबूर हूँ
तेरी ख़ुशी के लिए तुझसे दूर हूँ.
कभी कभी तकलीफ में मुस्कुराना पड़ता है
ताकि हमारे घर वाले हमारे लिए परेशां न हो जाएँ।
तेरे न होने से कुछ भी नहीं बदला बस कल
जहा दिल होता था आज वह दर्द होता है।
और फिर हुआ यूँ की ख़तम हो गया
वो रिश्ता भी, जिन्हे देख कर लगता था
की उम्र भर साथ निभाएंगे।
एक अजीब सा सुकून है उस नींद मैं
जो बुरी तरह से रोने के बाद आती है।
बचपन वाले खिलोने आवाज़ दे रहे है
पूछ रहे है कैसा लगता है जब लोग
तुम्हारे साथ खेलते है।
तुम ख़ास थे इसलिए लाडे तुमसे पराये
होते तोह मुस्कुरा कर जाने दिया होता।

Leave a Comment