एलआईसी बीमा रत्न प्लान | LIC Bima ratna plan in Hindi

एलआईसी बीमा रत्न प्लान क्या है, पात्रता, विशेषताए, लाभ, सरेंडर वैल्यू, राइडर्स, ग्रेस पीरियड (LIC Bima ratna plan details {plan no. 864}, eligibility criteria, features, benefits, rider, surrender value in hindi)

भारत की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी एलआईसी (LIC) ने बीमा रत्न नाम से एक नई बीमा पॉलिसी को लॉन्च किया है। यह एक लिमिटेड प्रीमियम, गारंटीड एडीशन, मनी बैक इश्योरेंस पॉलिसी है। जिसका अर्थ यह हुआ कि इसमें आपको कम समय तक प्रीमियम देना होगा और आपको बोनस गारंटी के साथ मिलेगा। आइए इस पॉलिसी (lic bima ratna policy in hindi) के बारे में और विस्तार से जानते है।

एलआईसी बीमा रत्न प्लान क्या है? (What is LIC Bima ratna plan in hindi)

एलआईसी बीमा रत्न एक नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग, व्यक्तिगत, बचत जीवन बीमा है। यह प्लान सुरक्षा और बचत का कॉम्बिनेशन प्रदान करती है। यह बीमा पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु के मामले में परिवार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करता है। यह बीमा पॉलिसीधारक के जीवित रहने पर आवधिक भुगतान भी प्रदान करता है। यह पॉलिसी लोन सुविधा भी उपलब्ध करवाती है।

एलआईसी बीमा रत्न प्लान पात्रता (LIC Bima ratna plan Eligibility Criteria)

बीमा का नाम:-एलआईसी बीमा रत्न (टेबल नम्बर 864)
न्यूनतम प्रवेश की उम्र:-15 साल की बीमा अवधि के लिए 5 वर्ष
20 और 25 वर्ष की अवधि के लिए 90 दिन
अधिकतम प्रवेश की उम्र:-15 साल की बीमा अवधि के लिए 55 वर्ष
20 साल की बीमा अवधि के लिए 50 वर्ष
28 साल की बीमा अवधि के लिए 45 वर्ष
कवरेज (Basic Sum Assured):-न्युनतम:- 5,00,000 रूपए
अधिकतम:- कोई सीमा नहीं (बोर्ड के अप्रूवल के अनुसार)
प्रीमियम भुगतान अवधि:-15 साल की अवधी के लिए 11 वर्ष
20 साल की अवधी के लिए 16 वर्ष
25 साल की अवधी के लिए 21 वर्ष
पॉलिसी टर्म:-15, 20 और 25 वर्ष
न्यूनतम परिपक्वता उम्र:-15 और 20 वर्ष की अवधी के लिए 20 वर्ष
25 वर्ष की अवधी के लिए 25 वर्ष
अधिकतम परिपक्वता उम्र:-70 वर्ष
ऑफिशियल वेबसाइट:-www.licindia.in

एलआईसी बीमा रत्न प्लान की विशेषताएं (features of LIC Bima ratna plan in hindi)

  • यह एक नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग, व्यक्तिगत, सेविंग लाइफ इंश्योरेंस प्लान है।
  • यह बीमा बचत और सुरक्षा का कॉम्बिनेशन प्रदान करती हैं।
  • यह पॉलिसी 5 लाख रुपए की न्यूनतम मूल बीमा राशि प्रदान करती है। अधिकतम मूल बीमित राशि की कोई सीमा नहीं है, हालांकि, यह 25,000 रुपए के गुणकों में होगी।
  • यह पॉलिसी 15 वर्ष, 20 वर्ष और 25 वर्ष के टर्म में उपलब्ध है।
  • प्रीमियम का भुगतान नियमित रूप से वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक या मासिक अंतराल पर किया जा सकता है।

एलआईसी बीमा रत्न प्लान के लाभ (Benefits of LIC Bima ratna plan in hindi)

मृत्यु लाभ (Death Benefit)

यदि पॉलिसी अवधि के दौरान बीमाधारक की मृत्यु पर जोखिम के शुरू होने की तारीख के बाद “मृत्यु पर सम एश्योर्ड” के साथ गारंटीकृत एडिशन मृत्यु लाभ के रूप में प्रदान किया जाता हैं।

जहां “मृत्यु पर सम एश्योर्ड” को बेसिक सम एश्योर्ड के 125% से अधिक के रूप में परिभाषित किया गया है। अर्थात सम एश्योर्ड या वार्षिक प्रीमियम का 7 गुना अधिक होगा। यह मृत्यु लाभ भुगतान किए गए कुल प्रीमियम (किसी भी अतिरिक्त प्रीमियम, किसी राइडर प्रीमियम और करों को छोड़कर) के 105% से कम नहीं होगा।

परिपक्वता लाभ (Maturity Benefit)

बीमा रत्न योजना में यदि बीमाधारक पॉलिसी की मैच्योरिटी तक जीवित रहता है तो एलआईसी की मैच्योरिटी पर बीमा राशि के साथ-साथ अर्जित गारंटीशुदा अतिरिक्त लाभ भी देगी। यह मैच्योरिटी पर सम एश्योर्ड का बेसिक सम एश्योर्ड के 50% के बराबर है।

अतिरिक्त गारंटीड लाभ (Guaranteed Additions Benefits)

इस बीमा के प्रत्येक वर्ष के अंत में गारंटीड एडिशन दिया जाता हैं, बशर्ते पॉलिसी लागू हो। प्रत्येक पॉलिसी वर्ष के अंत में दी जाने वाली गारंटीड एडिशन राशि इस प्रकार होगी।

पॉलिसी वर्ष/सालगारंटीड एडिशन (1000 बेसिक सम एश्योर्ड पर)
1 से 5 वर्ष तक50 रुपए
6 से 10 वर्ष तक55 रुपए
11 से 25 वर्ष तक60 रुपए

इस पॉलिसी के तहत मृत्यु के मामले में गारंटीड एडीशन मृत्यु का वर्ष पूर्ण पॉलिसी वर्ष के लिए होगा। यदि प्रीमियम का भुगतान समय पर नहीं किया जाता है, तो गारंटीड एडीशन समाप्त हो जाएगी पॉलिसी के तहत अर्जित करें।

सर्वाइवल बेनिफिट्स (Survival Benefit)

अगर पॉलिसी की अवधि 15 साल है, तो 13वें और 14वें पॉलिसी वर्ष के अंत में एलआईसी बेसिक सम एश्योर्ड का 25% भुगतान करेगी। अगर 20 साल की अवधी वाला प्लान है तो एलआईसी 18वें और 19वें पॉलिसी वर्षों में प्रत्येक के अंत में बेसिक सम एश्योर्ड का 25% भुगतान करेगी। अगर पॉलिसी योजना 25 सालों के लिए है, तो एलआईसी प्रत्येक 23वें और 24वें पॉलिसी वर्ष के अंत में समान 25% का भुगतान करेगी।

एलआईसी बीमा रत्न प्लान के राइडर्स (Additional Rider Benefits)

  • एलआईसी एक्सीडेंटल डेथ एंड डिसेबिलिटी बेनिफिट राइडर
  • एलआईसी एक्सीडेंट बेनिफिट राइडर
  • एलआईसी न्यू टर्म एश्योरेंस राइडर
  • एलआईसी न्यू क्रिटिकल इलनेस बेनिफिट राइडर
  • एलआईसी प्रीमियम वेवर बेनिफिट राइडर

ग्रेस पीरियड (Grace Period)

त्रिमासिक, अर्धवार्षिक, और वार्षिक प्रीमियम भुगतान के लिए 30 दिनों की छुट मिलती है। वही यदि आप मासिक प्रीमियम भुगतान करते है तो आपको 15 दिनों की छुट मिलती है। यदि ग्रेस पीरियड की समाप्ति तिथि से पहले प्रीमियम का भुगतान नहीं किया जाता है, तो पॉलिसी समाप्त हो जाएगी।

सरेंडर लाभ (Surrender Benefit)

इस बीमा प्लान में लगातार दो वर्षों तक पॉलिसी जारी रखने के बाद किसी भी समय पॉलिसी को सरेंडर करने का विकल्प प्रदान किया जाता है। ऐसी स्थितियों में, बीमाकर्ता उच्च स्पेशल सरेंडर वैल्यू या गारंटीकृत सरेंडर वैल्यू के बराबर सरेंडर वैल्यू का भुगतान करता है।

रिवाइवल (Revival)

यदि ग्रेस पीरियड में प्रीमियम का भुगतान नहीं किया जाता है तो पॉलिसी समाप्त हो जाती है। एलआईसी बीमा रत्न पॉलिसी को पुनर्जीवित करने का विकल्प प्रदान करती है लेकिन लगातार 5 वर्षों के भीतर। इसका मतलब है कि आपके पहले भुगतान न किए गए प्रीमियम की तारीख से और इसे केवल परिपक्वता तिथि से पहले ही पुनर्जीवित किया जा सकता है।

फ्री लुक पीरियड (Free look period)

यदि बीमाधारक पॉलिसी के नियमों और शर्तों से संतुष्ट नहीं है, तो इसे पॉलिसी दस्तावेजों की प्राप्ति की तारीख से 15 दिनों के भीतर आपत्ति के कारणों को बताते हुए बीमा कंपनी को वापस किया जा सकता है। 


एलआईसी बीमा रत्न प्लान/पालिसी के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

Q. एलआईसी बीमा रत्न प्लान क्या है?
ANS: एलआईसी बीमा रत्न एक नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग, व्यक्तिगत, बचत जीवन बीमा है। यह प्लान सुरक्षा और बचत का कॉम्बिनेशन प्रदान करता है। यह बीमा पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु के मामले में परिवार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
Q. क्या यह प्लान लोन सुविधा प्रदान करता है? 
ANS: बीमाधारक इस प्लान के तहत लोन का लाभ उठा सकता हैं, यदि उन्होंने कम से कम पहले 2 वर्षों के प्रीमियम का भुगतान किया हो और इस प्लान का सरेंडर वैल्यू प्राप्त कर लिया हो।

Leave a Comment